Sunday, October 2, 2022
Home एथलीट / Athletes यशस्वी जायसवाल का जीवन परिचय | Yashasvi Jaiswal Biography in Hindi

यशस्वी जायसवाल का जीवन परिचय | Yashasvi Jaiswal Biography in Hindi

Rate this post

यशस्वी जायसवाल का जीवन परिचय | Yashasvi Jaiswal Biography in Hindi

आईपीएल 2020 की नीलामी और अपनी दिलचस्प कहानी से प्रचलित होने वाले खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल ने काफी तेजी से अपने नाम और हुनर का लोहा मनवा रहे है. ये वो खिलाड़ी है जिसने सड़को पर पानी पूरी बेचकर, डेयरी पर काम करकर अपने सपनो को साकार किया है, चलिए जानते है इस खिलाड़ी के बारे में शुरू से…

यशस्वी जायसवाल का जीवन परिचय । Yashasvi Jaiswal Biography in Hindi

यशस्वी जायसवाल एक भारतीय क्रिकेटर है बांए हाथ के बल्लेबाज़ है. यशस्वी फ़िलहाल अपनी घरेलु टीम मुंबई और भारतीय अंडर -19 टीम से अपना क्रिकेट खेलते है. यशस्वी जायसवाल का जन्म 28 दिसम्बर 2001 में भाधोई, उत्तरप्रदेश में बहुत गरीब तबके के परिवार में हुआ था. यशस्वी जायसवाल को प्यार से मोंटी करके भी पुकारते है. इनके परिवार में पिता भूपेंद्र जायसवाल, माता कंचन जायसवाल और एक बड़ा भाई तेजस्वी जायसवाल और एक बहिन है. इनके पिता आज भी पेंट की दुकान चलाते है .

बिंदु (Points)जानकारी (Information)
पूरा नामयशस्वी भूपेंद्र कुमार जायसवाल
घर का नाममोंटी
पिता का नाम भूपेंद्र जायसवाल
कंचन जायसवाल
जन्म दिनांक28-12-2001
जन्म स्थान
शैक्षणिक योग्यतामेट्रिक पास (10th Pass)
धर्महिन्दू
पेशाक्रिकेटर
खेल का प्रकार बाँए हाथ के बल्लेबाज़
www.jivanisangrah.com

यशस्वी को बचपन से क्रिकेट खेलने का शोक था पर यशस्वी का जन्म एक गरीब परिवार और छोटे से गाँव में हुआ था, जिसके कारण उनका क्रिकेट की दुनिया में कदम रखना मुश्किल था. यशस्वी ने पहली बार 10 साल की उम्र में एक महान क्रिकेटर बनने का सपना देखा था और इसी सपने और निष्ठा के चलते उन्होंने अपने क्रिकेटिंग करियर की शुरुआत की.

यशस्वी जायसवाल का शुरुआती करियर । Yashasvi Jaiswal Starting Career

यशस्वी के पिता बताते है कि “यशस्वी ने 10 साल की उम्र में एक क्रिकेटर बनने की ठान ली थी, इसलिए उन्होंने 11 वर्ष की उम्र में मुंबई आने का फैसला किया. यशस्वी की जिद के सामने पिता जी की एक न चली और फिर उन्होंने यशस्वी को मुंबई अपने एक रिश्तेदार के घर भेज दिया. 5 से 6 महीने यशस्वी वहीं रहे और वहां से मुंबई के आजाद मैदान क्रिकेट सिखने जाते थे. चुकी रिश्तेदार का घर छोटा था इसलिए यशस्वी वहां ज्यादा टाइम नहीं रह सकते थे.”

पहले तो यशस्वी जायसवाल मैदान के बाहर बच्चो के साथ ही क्रिकेट खेला करते थे, वे तब कभी नेट तक नहीं पहुँच पाए, फिर उनके रिश्तेदार, जिनके साथ यशस्वी रहते थे, वे यशस्वी को आजाद मैदान ले गये और वहां उनके परिचित ग्राउंड मेन से कहकर यशस्वी के वहीं रहने का बंदोबस्त करवाया. यशस्वी जायसवाल यहाँ लगभग 3 साल टेंट में रहे और क्रिकेट की बारीकियां सीखी.

पिताजी सिर्फ 2000 रुपये हर महीने भेज पाते थे पर उसमे यशस्वी का गुजारा नहीं हो पाता था इसलिए यशस्वी जायसवाल आज़ाद मैदान के बाहर ही पानीपूरी बेचना शुरू किया. उन्होंने 20 रुपये रोज में डेयरी पर सफाई का काम भी कई महीनो तक किया. यशस्वी के पिता बताते है कि, यशस्वी की एक मुलाकात ने उनका जीवन बदल दिया…

यशस्वी जायसवाल आजाद मैदान पर लीग क्रिकेट खेल रहे थे, वहां उपस्थित ज्वाला सर यशस्वी के खेल को देखकर खूब प्रभावित हुए, उन्होंने यशस्वी से मिलकर पूछा “तुम्हारा कोच कौन है” ? यशस्वी ने कहा “कोई नहीं, में बड़ो को देखकर सीखता हूँ “, ये सुनकर ज्वाला सर ने उन्हें अपने साथ ले जाने का फैसला कर लिया और वे यशस्वी को अपनी एकेडमी ले गये. यही वो पल था जिसने यशस्वी की जिंदगी बदल दी.

यशस्वी जायसवाल का घरेलु करियर । Yashasvi Jaiswal Domestic Career

  • यशस्वी जायसवाल की कड़ी मेहनत और हुनर रंग लाया और साल 2018 में इनका भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम में हुआ और यशस्वी ने श्रीलंका के खिलाफ अपना पदार्पण मैच खेला.
  • यशस्वी जायसवाल ने अपना पहला घरेलु क्रिकेट 7 जनवरी 2019 को अपनी घरेलु टीम मुंबई से छत्तीसगढ़ के खिलाफ खेला.
  • यशस्वी जायसवाल ने लिस्ट-A क्रिकेट 28 सितम्बर 2019 को छत्तीसगढ़ के खिलाफ खेला
  • यशस्वी जायसवाल ने घरेलु क्रिकेट में दोहरा शतक जड़ रखा है इसीकी बदोलत उन्हें आईपीएल 2020 में राजस्थान की टीम ने अनकेप खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा बोली लगाकर ख़रीदा था.

यशस्वी जायसवाल की उपलब्धियां | Achievements Of Yashasvi jaiswal

  • विजय हजारे ट्रोफी के मैच में झारखंड के खिलाफ 154 बॉल पर 203 रनों की तूफानी पारी खेली.
  • इसी के साथ सबसे कम उम्र के पहले खिलाड़ी खिलाड़ी बन गये जिसने ODI में दोहरा शतक जड़ा हो.
  • अंडर-19 एशिया कप विजता टीम के सदस्य थे.
  • आईपीएल 2020 में अनकेप खिलाड़ियों में सबसे बड़ी बोली पर ख़रीदे गये.
  • सचिन तेंदुलकर से मिला खेल का मंत्र.
RELATED ARTICLES

सुरेश रैना का जीवन परिचय | Suresh Raina Biography in Hindi

सुरेश रैना की जीवनी (जन्म, एजुकेशन और परिवार), क्रिकेट करियर और रिकार्ड्स | Suresh Raina Biography, Cricket Career and Records in...

एक्टर, पहलवान दारा सिंह के जीवन की असल कहानी | Dara Singh Biography in Hindi

दारा सिंह कुश्ती के शहंशाह| Dara Singh Biography in Hindi दारा सिंह जी. जिन्होंने खेल जगत के साथ अपने...

Ram murti naidu biography in hindi | राममूर्ति नायडू (पहलवान) का जीवन परिचय | कलयुग का भीम

राममूर्ति नायडू का जन्म अप्रैल 1882 मे आंध्र प्रदेश के एक छोटे से गांव वीराघट्टम मे हुआ। जब वह छोटे थे तब उनकी माता का स्वर्गवास हो गया। इसके बाद उनके पिता वेंकन्ना ने उनको बड़े लाड प्यार से पाला। राम मूर्ति की अक्सर उनके दोस्तों के साथ लड़ाई हो जाती थी इसलिए उनके पिता ने उनको विज़ियानागारं उनके अंकल के पास पढ़ाई करने भेज दिया। वहां जाकर उन्होंने फिटनेस सेंटर जॉइन किया और रेसलिंग सीखी। इसके बाद उन्होंने मद्रास में भी रेसलिंग सीखी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

आदि शंकराचार्य जीवनी | Adi Shankaracharya Biography In Hindi

शकराचार्य उच्च कोटि के संन्यासी, दार्शनिक एवं अद्वैतवाद के प्रवर्तक के रूप में प्रसिद्ध हैं। जिस प्रकार सम्राट् चंद्रगुप्त ने आज...

राम नारायण सिंह (स्वतंत्रता सेनानी, सांसद) का जीवन परिचय | Ram Narayan Singh Biography in Hindi

प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी, सामाजिक कार्यकर्ता और राजनेता राम नारायण सिंह का जीवन परिचय | Ram Narayan Singh Biography (Birth, Career and...

के. सी. पॉल (फुटपाथ पर रहने वाला वैज्ञानिक) की पूरी कहानी और संघर्ष

के. सी. पॉल (फुटपाथ पर रहने वाला वैज्ञानिक) की जीवनी, कार्य और जीवन संघर्ष | K. C. Paul Biography, Work and...

अजीमुल्लाह खान (स्वतंत्रता सेनानी) का जीवन परिचय | Azimullah Khan Biography in Hindi

अजीमुल्लाह खान (स्वतंत्रता सेनानी) का जीवनी, 1857 की क्रांति में योगदान और मृत्यु | Azimullah Khan Biography,1857 Revolt and Death Story...

Recent Comments